Zero Tolerance (02) – ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक पर मुकदमा दर्ज, पोखरी खुदाई करवा रहे थे जेसीबी से.!!

ग्रामीण सक्रिय रहें और शासनिक अधिकारी फर्जवान, तो फिर भ्रष्टाचारियों की अकड़ टूटते देर नहीं लगती. इसका प्रत्यक्ष प्रमाण विकास खंड महराजगंज अंतर्गत देखनें मिला, जहां रग्घुपुर ग्राम सभा में पोखरी की खोदाई मनरेगा मजदूरों के बजाए जेसीबी से करायी गई, वहीं पर बीडीओ महराजगंज ने ग्राम प्रधान, सचिव व तकनीकी सहायक के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज कराया है।
ज्ञात हो कि पुलिस को दी तहरीर पर में बीडीओ मो. इरशाद ने बताया कि रग्घुपुर ग्राम पंचायत में प्राथमिक स्कूल के बगल में पोखरी है, जिसकी खोदाई मनरेगा के तहत मजदूरों से करानी थी. इस पोखरी की खोदाई में मनरेगा एक्ट व एसओपी का उल्लंघन करते हुए जेसीबी से कराई गई. जिसकी शिकायत गांव के ही आशुतोष मिश्रा व श्रवण कुमार श्रीवास्तव द्वारा किया गया. शिकायत पर 28 मई को जब मैं स्वयं पोखरी के खोदाई कार्य की जांच को पहुंचा तो वहां जेसीबी से खोदाई होना पाया गया. इसके लिए ग्राम प्रधान गीता देवी, सचिव मो. आलम व तकनीकी सहायक जितेंद्र सिंह दोषी हैं. बीडीओ की तहरीर पर महराजगंज पुलिस ने तीनों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

भदोही भ्रष्टाचार कांड- सेकेट्ररी पर दर्ज हो सकता है ४२० का मुकदमा.!!